तो इस एहतियात के साथ शुरू की जा सकती हैं कोरोना संकट काल में संसद का मानसून सत्र

0

[su_box title=”प्रत्येक सदन द्वारा उचित दूरी का पालन करते हुए सदस्यों के बैठने की होगी तैयारी” style=”glass” box_color=”#231401″ title_color=”#f4cb19″ radius=”0″][/su_box]
[su_button url=”www.mirrormedianews.com” target=”blank” style=”3d” background=”#fd2e13″ color=”#f8f6f6″ radius=”5″ icon_color=”#171414″ text_shadow=”7px 38px 22px #f6fdf1″]MIRROR MEDIA[/su_button]: कोरोना महामारी के इस संकट काल में संसद के मानसून सत्र के शुरू करने की कवायद तेज हो गई हैं। सूत्रों की माने तो सिंतबर के पहले सप्ताह से संसद का मानसून सत्र शुरू होने की संभावना हैं। हालांकि कोरोना के कारण दोनों सदनों की कार्यवाही एक साथ चलने में संदेह हैं। क्योंकि प्रत्येक सदन द्वारा उचित दूरी का पालन करते हुए सदस्यों के बैठने के लिए दोनों चैंबरों और दीर्घाओं का इस्तेमाल करने की संभावना है। इस बाबत संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कोविड-19 महामारी के मद्देनजर सत्र की तैयारियों की समीक्षा के लिए सोमवार को लोकसभा और राज्यसभा दोनों के चैंबरों का दौरा किया।

[su_expand more_text=”आगे पढ़े….” height=”0″ text_color=”#141519″ link_color=”#151111″ link_style=”button” link_align=”center” more_icon=”https://mirrormedianews.com/wp-content/uploads/2020/08/MIRROR-MEDIA-LOGO.jpg” less_icon=”icon: hand-o-up”]गौरतलब हैं कि 23 मार्च को दोनों सदनों को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया था। भारतीय संसद के इतिहास में पहली बार इस तरह की व्यवस्था होगी जहां 60 सदस्य चैंबर में बैठेंगे और 51 सदस्य राज्यसभा की दीर्घाओं में बैठेंगे। इसके अलावा बाकी 132 सदस्य लोकसभा के चैंबर में बैठेंगे। इसके अलावा लोकसभा सचिवालय भी सदस्यों के बैठने के लिए इसी तरह की व्यवस्था कर रहा है। एक सदन सुबह के समय बैठेगा और दूसरे की कार्यवाही शाम को होगी। महामारी के कारण संसद के बजट सत्र की अवधि में कटौती कर दी गयी थी[/su_expand]

[su_box title=”नेता और अन्य पार्टी नेताओं के लिए उच्च सदन के चैंबर में नामांकित सीटें निर्धारित की जायेंगीं।” style=”glass” box_color=”#231401″ title_color=”#f4cb19″ radius=”0″][/su_box]

प्राप्त जानकारी के मुताबिक राजनीतिक दलों को उनकी क्षमता के अनुसार बैठने से संबंधित निर्देश दिये जायेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सदन के नेता थावर चंद गहलोत के, और विपक्ष के नेता और अन्य पार्टी नेताओं के लिए उच्च सदन के चैंबर में नामांकित सीटें निर्धारित की जायेंगीं। पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह और एचडी देवेगौड़ा, जो कि राज्यसभा के सदस्य भी हैं, उनके लिए भी सदन के चैंबर में ही नामांकित सीटें निर्धारित की जायेंगीं।

[su_expand more_text=”आगे पढ़े….” height=”0″ text_color=”#141519″ link_color=”#151111″ link_style=”button” link_align=”center” more_icon=”https://mirrormedianews.com/wp-content/uploads/2020/08/MIRROR-MEDIA-LOGO.jpg” less_icon=”icon: hand-o-up”]जानकारी के अनुसार राज्यसभा अध्यक्ष एम वेंकैया नायडू ने मानसून सत्र के लिए अगस्त के तीसरे सप्ताह तक तैयारी पूरी करने के निर्देश दिये हैं। जिसके अनुसार सदन के कक्ष में चार बड़ी डिस्प्ले स्क्रीन और छह अतिरिक्त छोटी स्क्रीन को सदन की चार गैलरियों में लगाने का निर्देश है। इसके अलावा गैलरियों में ऑडियो कंसोल्स, सूक्ष्म कीटाणुनाशक अल्ट्रावॉयलेट विकिरण-लाइट्स, ऑडियो-विजुअल सिग्नल्स को दोनों सदनों के बीच ट्रांसमिट करने के लिए स्पेशल केबल्स, पॉली कार्बोनेट शीट के जरिए सदन के कक्ष को आधिकारिक गैलरी से अलग करने पर भी काम चल रहा है।[/su_expand]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here