धनबाद : उड़ीसा सरकार से नागा साधु वैष्णवपुरी को रिहा करने की मांग,भाजपा का एजेंट बताकर  जेल के कालकोठरी में है बंद।

0

SR PRIME NEWS धनबाद : उड़ीसा सरकार द्वारा एक नागा साधु वैष्णवपुरी को भाजपा सरकार का एजेंट बताकर महीनों से जेल के कालकोठरी में बंद करके रखे जाने के विरोध में तोपचांची के गंगापुर लिलोरी मंदिर परिसर में उड़ीसा के वैष्णव समाज के दर्जनों लोगो ने उड़ीसा से लेकर झारखण्ड तक आवाज बुलंद कर रहे है। उनकी उड़ीसा सरकार से मांग है कि नागा साधु बाबा को सम्मानजनक रूप से रिहा किया जाए।जानकारी के अनुसार उड़ीसा के नामी नागा साधु बाबा को उड़ीसा के विख्यात जगरनाथ पूरी धाम में प्रतिबंधित पूजा स्थल को लोगो को दर्शन कराने के आरोप में गलत ढंग से fir करके जेल में डाल दिया गया और नागा साधु बाबा के ऊपर आरोप लगाया गया कि वे यूूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और भाजपा के एजेंट है क्योंकि नागा साधु बाबा का एक फोटो वायरल हुआ था जिसमे वे यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ मौजूद थे।जिसके कारण जेल में उन्हें प्रताड़ित कर उन्हें पागल घोषित करने का सडयंत्र उड़ीसा सरकार द्वारा किया जा रहा है।जिसका पुरजोर विरोध उड़ीसा से लेकर झारखण्ड में रह रहे उड़ीसा के लोगो द्वारा किया जा रहा है। इसी बात को लेकर उड़िया समाज के लोगो द्वारा आज तोपचांची के गंगापुर लिलोरी मंदिर परिसर में एक सादे प्रदर्शन के माध्यम से उड़ीसा सरकार से मांग की गई कि नागा साधी बाबा को सम्मानजनक रूप से रिहा करे। नागा साधु बाबा द्वारा जेल से लिखा गया पत्र जिसमे उन्होंने लिखा है कि जेल के भीतर  सरकार के लोगो द्वारा उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है और पागल घोषित करने की सडयंत्र किया जा रहा है।राजिव नायक ( भक्त ) ने बताया कि नागा साधु वैष्णवपुरी महाराज को उड़ीसा सरकार ने पड़यंत्र के तहत जेल की कालकोठरी में बंद कर उन्हें पागल घोसित करने का पड़यंत्र कर रही है इसलिए हम वैष्णव समाज के लोग उड़ीसा से लेकर झारखण्ड बिहार और पुरे साधु बाबा को सम्मानजनक रूप  रिहा करने की मांग करते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here