बोकारो : जेपीएससी की नयी नियमावली 2021 के विरुद्ध में बोकारो में धरना व हेमन्त सोरेन का पुतला फूंका गया

0

बोकारो : जेपीएससी की नयी नियमावली 2021 के विरुद्ध में बोकारो में धरना व हेमन्त सोरेन का पुतला फूंका गया। जेपीएससी अभ्यार्थियों ने कहा नयी नियमावली में अनगिनत कमियां है। इसमें ST,SC,OBC, EWS के आरक्षण को खत्म कर दिया गया है। सर्विस एलोकेशन के नाम पर आरक्षित वर्ग के अभ्यार्थियों को अपने ही वर्ग में सिमटने का षडयंत्र रचा गया है।नियमावली को पढ़ने से लगता है, आरक्षण दिया जा रहा है परन्तु गौर से देखा जाय तो आरक्षण दुसरे राज्य के लिए 40% आरक्षित कर दिया गया है।अभ्यर्थी सफी इमाम का कहना है, इस नियमावली में झारखंड के अभ्यर्थियों का अहित होने वाला है, हेमंत सरकार को इसमें आवश्यक सुधार करके लागु करना चाहिए।
इस नियमावली में काई भ्रम है-

1-प्रारंभिक परीक्षा का रिजल्ट कैसा होगा इस पर संशय है।
प्रारंभिक परीक्षा में आप रिजर्वेशन कैसे लागू करेंगे इसपर कुछ स्पष्ट नहीं है।

2-नियमावली के पॉइंट नंबर 17 का दूसरा पॉइंट और नियमावली के 18 का पहला पॉइंट विरोधाभासी है।

3- वन 8 का भाग 1 में जो व्याख्या की गई है वह किस स्तर से लागू होगा यह नहीं बताया गया है।

4- सर्विस एलोकेशन कभी जो नियम बनाया गया है वह संतोषजनक नहीं जान पड़ता है।

5-नियमावली में और कई तरह की त्रुटियां हैं।

6, उम्र सीमा में भी वृद्धि नहीं हो रहा है । लाखो छात्रों की उम्र निकल रही है परीक्षा में विलम्ब के कारण।साक्षात्कार में न्यूनतम क्वालिफाइंग की बाध्यता को हटा दिया गया है या नहीं संशय है। जो भेद भाव व भाई- भतीजावाद संभावना है। और भी अनगिनत कमियां हैं नियमावली में। धरना प्रदर्शन व पुतला दहन कार्यक्रम में नसीम अख्तर, गुलाम हुसैन , रमेश लाल, जयदेव नायक,उमेश प्रसाद, आमीन, राजु यादव, दसरथ टूडू, मनीष तिवारी व अन्य शामिल थे।

बोकारो से नरेश कुमार की रिपोर्ट।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here