मुख्यमंत्री ने की पहल, बैंककर्मियों ने वृद्धा को घर जाकर दिये 1500 रुपये

0

रांची: मुख्यमंत्री  हेमन्त सोरेन ने गढ़वा उपायुक्त को बैंक से रुपये निकालने के लिए परेशान रंका प्रखंड निवासी 105 वर्षीय महिला की मदद करने का निदेश दिया है। मुख्यमंत्री ने उपायुक्त को आदेश दिया कि अकारण कोई भी लाभार्थी अपने अधिकार के लिए परेशान न हो। यह सुनिश्चित कराएं।मुख्यमंत्री ने कहा राज्य में कर्मठ बैंकिंग क्रॉसपोंडेंट की समुचित भागीदारी के माध्यम से भी ऐसे मामलों की पुनरावृत्ति रोकी जा सकती है।

105 वर्षीय वृद्धा को मिले 1500 रूपये
मुख्यमंत्री के आदेश के बाद उपायुक्त गढ़वा ने मुख्यमंत्री को बताया कि मामले की जांच कर त्वरित कार्रवाई करते हुए रंका निवासी श्रीमती पचिया कुंवर जी के घर जाकर जेआरजीबी (ग्रामीण बैंक) रंका के शाखा प्रबंधक के द्वारा 1500 रुपए की राशि दिया गया तथा जिले के सभी सीएसपी को बैंक के माध्यम से निर्देश दिया गया भविष्य में इस प्रकार की पुनरावृत्ति ना हो।

कोरोना के भय से बैंक में प्रवेश नहीं मिला

मुख्यमंत्री को जानकारी दी गई कि
गढ़वा जिले के रंका प्रखंड निवासी विफन भुइयां अपनी 105 वर्षीय मां को पीठ पर लादकर बैंक का चक्कर लगा रहा है। उसे मां के जन-धन खाते से 1500 रुपये निकालना है। वह अपनी मां को दो बार रंका स्थित जेआरजीबी बैंक लेकर आया लेकिन, बैंक वालों ने कोरोना संक्रमण का भय बता कर बैंक में प्रवेश नहीं करने दिया। विगत छह माह से उक्त वृद्ध महिला का वृद्धा पेंशन भी बंद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here