लोयाबाद में हुऐ अपराधिक वारदात में पुलिस की ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी। हिरासत में लिए पाँचो संदेही के पहचान न होने पर छोड़ा गया।

0

लोयाबाद :- लोयाबाद में शाम ढलते ही हुई अपराधिक वारदात में लोयाबाद पुलिस की ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है। घटना के बाद एक तरफ सर्चिंग अभियान शुरू कर, तीन लोगों को हिरासत में लिया गया। वहीं दूसरी तरफ स्नेफर डॉग की मदद से रात करीब 12 बजे दो लोगो को  हिरासत में लिया गया। पुलिस रात भर सभी पांचों संदेही से पूछताछ करती रही। शुक्रवार सुबह पांचों को पीड़ित परिवार के यहां ले जाकर परेड कराया गया। हालांकि पीड़ित परिवार ने सभी को पहचानने से यह कहकर इनकार कर दिया कि,इसमे से कोई नही है। पीड़ित परिवार के नवीन सिंह ने घटना को लेकर लिखित शिक़ायत देकर पुलिस से कार्रवाई की मांग की है।हालांकि अबतक कांड अंकित नही हुआ है।

पुलिस की परेशानी बढ़ी।

पांचों संदेही की पहचान नही होने से पुलिस की परेशानी बढ़ गई। गुरुवार रात सर्चिंग और स्नेफर डॉग की तमाम कोशिशें बेकार साबित हो गयी। अब पुलिस नए सिरे से जांच कर रही है। पुलिस का दावा है कि अपराधियों को जल्द पकड़ लिया जाऐगा।

पुलिस से की गई शिकायत।

शिकायत में पीड़ित परिवार ने कहा कि दो अपराधी बंदूक लेकर घर मे घुसकर जिस तरह घटना को अंजाम दिया वो समझ से परे है। कुछ समझ मे नही आ रहा है कि आखिर अपराधी मेरे घर मे क्या लेने आया था। शिकायतकर्ता नवीन सिंह ने अपराधी के आने और भागने का जिक्र करते हुए कहा कि पीछे का जंगल झाड़ खत्म हो गया,उससे भी अपराधी को आने में सहूलत हो गया। शिकायत में नाली का जिक्र भी किया गया है।

घटना पर अफसोस।
शाम ढलते हुई इस घटना से लोयाबाद के लोग सकते में हैं। सभी के जुबान में एक चर्चा है कि शाम 8,30 बजे कोई अपराधी इस तरह का दुस्साहस कैसे कर सकता है।वो बूढ़ी मां और अपाहिज़ बेटा के साथ सभी लोगों को मामले से पर्दा उठने का इंतज़ार है। आसपास के लोगो ने कहा जो भी हुआ ये ठीक नही हुआ। कभी भी शाम में इस तरह की घटना नही हुई व घर पर हमला निंदनीय है। शुक्रवार दिन भर पीड़ित परिवार के यहां आसपास लोगो की भीड़ जमी हुई थी। सभी ने घटना पर अफसोस जताया।

पांचों को छोड़ा।
शुक्रवार शाम में पांचों संदेही को पुलिस ने छोड़ दिया। हिरासत में लिए पांचों की संलिप्तता सिद्ध नही हो पाई।पुलिस को अबतक कोई सुराग भी नही मिला। लोगो ने कहा निर्दोष फंसे नही और दोषी बचे नही। सभी लोग यही चाहते हैं कि घटना का उदभेदन जल्द होना चाहिए।

वर्जन
पांचों को छोड़ दिया गया। परेड कराया गया था,पहचान नही हो सकी। पुलिस की जांच जारी है। दोषी बख्शे नही जाएंगे।  विकास कुमार यादव थाना प्रभारी लोयाबाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here